लगोरी (Lagori) की जानकारी

लगोरी  (Lagori) की जानकारी post thumbnail image

to read in English–>

Lagori (seven stones) game - Fall in SPorts
lagori (seven stones), image source – tcsmplspicnic

लगोरी ये खेल भारत के कई जगहों पर खेला जाता है। ये खेल एक ७ पथरों की लगोरी और कम से कम ५-७ लोगो की दो टीम्स में खेला जाता है।

De beste øvelsene for magemuskler og for å ha en flat mage – fitness & chicness drostanolone huawei vision huawei smart-tv med harmonyos er offisiell.

इस खेल को अलग-अलग जगह पर अलग-अलग नामो से जाना-जाता है। जैसे—

१. लिंगोरछा, लागोरी -(Maharashtra, Karnataka)

२. लिंगोज -(Telangana)

३. सतोडियू -(Gujarat)

४. पिट्ठू, पिट्टो -(Haryana, Punjab, Chandigarh, Bihar)

लगोरी का इतिहास

लागोरी को एक प्राचीन खेल कहा जाता है। ये खेल पिछले ५००० सालो पहले से चलता आरहा है। लागोरी का खेल भगवान कृष्ण अपने दोस्तों के साथ खेला करते थे ऐसा हमारे भगवत गीता में लिखा गया है। ऐसा कहा जाता है की ये खेल दक्षिण भारत में १९९० से शुरू हुआ था।

Kids Playing Lagori in playground - Fall in Sports
लगोरी खेलते बच्चे, image source – themysteriousindia

लगोरी कैसे खेले

हार टीम का मकसद होता है की उस लगोरी  को गिराया जाए और अगर आपकी टीम ने लगोरी  गिराया तो आपका काम होगा की उसे वापस बनाना और विरोधी टीम का मकसद आपको बॉल से आपको आउट करना। अगर आपने सारे पत्थर एक के ऊपर एक लगा दिए तो आपकी टीम जीत जाएगी वार्ना विरोधी टीम जीत मनाएगी।

|Related – जानिए गिल्ली डंडे के बारे में..

लगोरी के नियम

१. इस  खेल में भी  दो टीम होती है।

२.  हर एक टीम में ७-७  खिलाडी होते है (जरूरी नहीं की ७ ही हो)। 

३. लगोरी गिराने वाली टीम को सीकर (seeker) कहते है और दूसरी टीम को हीटर (hitter) कहते है।

४. यह लगोरी  में ५  से लेकर ७ चपटे पथरो की होनी चाहिए।

५ .  फेकने वाले खिलाडी का पाव लाइन के आगे नहीं पड़ना चाहिए नहीं तो फ़ाउल करा दिया जायेगा।

६.  हर टीम के खिलाडी को  ३ मौके मिलते है उस लगोरी को गिराने के लिए। अगर वह ३ बार चूक गए तो आउट हो जायेंगे और मौका दूसरे टीम को दिया जायेगा।

७. अगर seeker टीम लागोरी फोड़ देती है तो hitter टीम बॉल लेकर उन्हें आउट करनेकी कोशिश करती है।

८. Hitter टीम के खिलाडी seeker टीम के खिलाडी को आउट करने केलिए केवल घुटनेके निचे ही बॉल मार सकते है।

९. Hitter टीम के खिलाडी बॉल पकड़कर भाग नहीं सकती। 

१०. अंत में अगर seeker टीम  पूरी लागोरी फिर बनाती  है तो “लागोरी ” चिल्ला कर बोलती है तो जीत seeker टीम की होगी।

११. लगोरी बनाने से पहले seeker टीम का खिलाडी आउट हो जाता है तो जीत hitter टीम की हो जाती है।

|Related – जानिए खो-खो के बारे में..

लगोरी पर मेरे मनकी बात (My Thoughts)

बचपन में ये खेल आपको जरूर पसंद आया होगा। वो भाग-दौड़ ,वो मस्तियाँ ,वो हार-जीत वो सभी यादे…

ये लिखते लिखते वापस आरही। माना ये खेल काफी पुराना है मगर अभी भी कही देखता हु तो यादे ताज़ा हो जाती है। 

हमारे कई जगहों में ये खेल प्रचलित भी है और विलुकत भी। तो ये लिखने का मेरा उदेश  बस इतना है की इसकी रूचि लोगोमे फिर जाग जाये।

हालही में इसके tournament भारत में कई जगह खेले गए है। और जानने के लिए –  लगोरी लीग…

क्युँकी ये खेल अब फिर प्रचलित होने लगा है और ३० से अधिक देशो में खेला जाने लगा है।

तो अगर ये पढ़ कर आपकी भी यादे तजा हुई या कुछ नया पढ़े मिला हो, या कुछ पूछना हो तो नीचे comment जरूर करना और होसके तो Share भी करदेना।

—Dhanyavaad—

9 thoughts on “लगोरी (Lagori) की जानकारी”

  1. 👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌

  2. जोरदार जानकारी भाईसाब…मेरी भी इच्छा है कि ये खेल वापस से देश मे लोकप्रिय हो जाये …मैं शारीरिक शिक्षक हूँ …. और अपने बच्चो को लगोरी जिसे हमारे यहां सितोलिया बोलते है कि तैयारी अब शुरू करवा रहा हूँ ताकि अगले साल होने वाले स्कूल टूर्नामेंट में हमारी टीम भाग ले सके और इस खेल को लोकप्रिय बना सके ….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *