Wankhede stadium facts, story, memorable moments Hindi

To read in English->

कहानी और facts वानखेड़े स्टेडियम के बारे में

भारत में न जाने कितने ही मैदान हो लेकिन उस्समे से वानखेड़े स्टेडियम की कहानी और उसपर हुए कुछ ख़ास मैचेस की वजह से काफी प्रसिद्ध है।

आइये जानते हे इसके बारेमे और जानिए इसके पीछेकी रोचक कहानी।

स्टेडियम की जानकारी :

स्थान: डी रोड , चर्चगटे, मुंबई, महाराष्ट्र

स्थापित साल: १९७४

मालिक: मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (Mumbai Cricket Association)

बैठने की जगह: ३३४८२ दर्शख

Wankhede Stadium, Mumbai
Wankhede Stadium, Mumbai

वानखेड़े की कुछ ख़ास बाते:

१. वानखेड़े स्टेडियम की स्तापना १९७४ में हुए थी और इसका नाम मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्वी राष्ट्रपति स.क.वानखेड़े पर रखा गया।

२. इस स्टेडियम पर पहली ODI मैच १९८७ में वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेला गया था।

३.  स्टेडियम के स्टैंड्स के नाम भी कुछ ख़ास खिलाडियों के नाम पर रखा गया जैसे सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर, आदि।

४. इंडिया ने श्री लंका के खिलाफ २०११ में विश्व कप भी इसी मैदान पर जीता था।

५. सचिन तेंदुलकर जी ने अपना आखरी मैच वेस्ट इंडीज के खिलाफ इसी मैदान में खेला था।

कहानी वानखेड़े स्टेडियम की

जैसे इस स्टेडियम का नाम हुआ है वैसे ही इसके बनने के पीछे की कहानी भी काफी ख़ास हे।

इस स्टेडियम से पहले सरे अंतराष्ट्रीय मैचेस सरे ब्रबोर्ने स्टेडियम पर होते थे जो क्रिकेट क्लब ऑफ़ इंडिया (Cricket Club of India) के अंडर था।

लेकिन स.क.वानखेड़े जी को इंडिया बनाम इंग्लैंड का मैच रखना था लेकिन उन्हें नकार दिया गया।  उन्होंने कई बार उनसे पूछा लेकिन हर बार वह ना ही कहे रहे थे तो उन्होंने सोच लिया की खुका स्टेडियम खड़ा करेंगे और उन्होंने किये वह भी सिर्फ ६ महीनो में।

वानखेड़े स्टेडियम पर पहला मैच भारत बनाम इंग्लैंड १९७५ में खेला गया।  उसके बाद ब्रबोर्ने स्टेडियम धीरे धीरे बेजान हो गया। 

सिर्फ एक इंसान के ठान लेने से हमें मिला वानखेड़े जैसा एक अंतराष्ट्रीय स्टेडियम।

वानखेड़े सैडियम में हुए कुछ यादगार क्षण:

१. १० जनवरी १९८५ इस दिन हुई थी छको की बारिश यानि की युवराज सिंह से पैहले  रवि शास्त्री जी ने लगाए थे छे बॉल में छे रन।

२. १७ जनवरी १९८७ पहला यदि श्रीलंका के खिलाफ और हराया केवल १० रन छोड़ कर।

३. ५ नवंबर १९८७ इस दिन खेला सुनील गावस्कर जी ने अपना आखरी मैच।

४. २२ फरवरी १९९३ विनोद कांबली जी ने बनाये इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में २२४ रन।

५. २७ फरवरी १९९६ मार्क वौघः बने  खिलाडी जिन्होंने लगातार मैचेस में शतक लगाया।

६. १७ अक्टूबर २००७ उस दिन मुरली कार्तिक ने बनाया नया रिकॉर्ड ६/२७ और भारत को जीत दिलाई।

७. २ अप्रैल २०११ भारत ने श्री लंका को हराकर जीता विश्व कप।

८. १६ नवंबर २०१३ इस दिन हमारे चहिते खिलाडी सचिन तेंदुलकर जी ने खेला अपना आखरी मैच।

तो ये थी पूरी जानकारी उसकी कहानी सब एक साथ। तो अगर ये पढ़ते हुए मजा आयहो तो नीचे कमेंट में बताओ या कुछ पूछना हो तो भी कमैंट्स में बताओ।

और यार अकेले अकेले न पढ़ो और दुरोके साथ भी शेयर करो में मिलता हु फिर किसी नयी जानकारी के साथ तब तक केलिए…

—धन्यवाद— 

If you want to know the basics about the primary and pre-primary section then you can visit – smartschool.infolips.com

1 thought on “Wankhede stadium facts, story, memorable moments Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *